वडोदरा | शहर के वाघोडिया से भाजपा विधायक मधु श्रीवास्तव अपने बयान को लेकर हमेशा विवादों रहते हैं| मधु श्रीवास्तव के ऐसे ही एक विवादित बयान से राजनीति गरमा गई और मामला चुनाव आयोग तक पहुंच गया| दरअसल मधु श्रीवास्तव में भाजपा की उम्मीदवार रंजन भट्ट के लिए चुनाव प्रचार कर रहे थे| 3 अप्रैल को आयोजित एक सभा को संबोधित करते हुए श्रीवास्तव में मतदाताओं धमकी देते हुए कहा कि “प्रत्येक बूथ में कमल खिलना चाहिए, भाजपा को वोट नहीं दिया तो ठिकाने लगा दूंगा|” श्रीवास्तव का यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होते ही राजनीति गरमा गई|
विवाद बढ़ने पर मधु श्रीवास्तव ने बयान से पलटी मार ली और कहा कि मैं हिन्दीभाषी हूं और मेरे कहना मतलब, बेरोजगारों को रोजगार देकर ठिकाने लगा था| हो सकता है मेरी जबान फिसल गई हो| लेकिन मेरा मकसद किसी को डराना-धमकाना नहीं था| 
कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता मनीष दोशी ने कहा कि यह कोई पहली घटना नहीं है जिसमें भाजपा विधायक ने ऐसी भाषा का प्रयोग किया| भाजपा की यही रीत है| असामाजिक तत्त्वों का उपयोग कर भय का माहौल पैदा किया गया है| राज्य के मुख्यमंत्री को इसका जवाब देना चाहिए| उन्होंने कहा कि भाजपा ऐसी भाषा का उपयोग कर चुनाव जीतने निकली है|