बारां ।  जिला कलेक्टर इन्द्र सिंह राव के नेतृत्व में जिले में नवाचार के तौर पर प्रारंभ किए गए कडक़नाथ मुर्गीपालन व ब्रीडिंग के कार्य से कई किसान व पशुपालक जुडऩे लगे हैं और ऐसे लोगों को सरकारी अनुदान भी प्रदान किया जा रहा है। इसी क्रम में कलेक्टर इन्द्र सिंह राव द्वारा उपखंड अटरू के ग्राम छत्रपुरा में प्रगतिशील पशुपालक के कडक़नाथ मुर्गीपालन केन्द्र का निरीक्षण किया गया और उक्त कार्य हेतु प्रशिक्षण व अनुदान का भरोसा दिलाया गया।
कडक़नाथ मुर्गीपालन केन्द्र के संचालक उदयप्रताप ने बताया कि जिला कलक्टर इन्द्र सिंह राव की प्रेरणा से मध्यप्रदेश से कडक़नाथ मुर्गी के लगभग 100 चूजे लाकर मुर्गीपालन का व्यवसाय प्रारंभ किया और आशा के अनुरूप सफलता प्राप्त हुई है। उन्होंने बताया कि आगामी दिनों में 200 कडक़नाथ मुर्गी के चूजे अथवा अण्डे लाकर व्यवसाय में इजाफा किया जाएगा, क्योंकि कडक़नाथ मुर्गी के अण्डे का बाजार भाव 80 रूपए है और मुर्गे की कीमत लगभग 1200 रूपए तक मिल जाती है। बड़े शहरों में कडक़नाथ मुर्गी के अण्डे व मांस की मांग रहती है, क्योंकि इसमें आयरन व पौष्टिक तत्व भरपूर होते हैं। कलेक्टर राव ने उक्त प्रगतिशील पशुपालक को मध्यप्रदेश के झाबूआ में कडक़नाथ मुर्गीपालन का प्रशिक्षण कृषि विभाग के माध्यम से दिलवाने और नाबार्ड के माध्यम से अनुदान दिलवाने का भरोसा दिलाया। इसी क्रम में कलेक्टर राव ने पशुपालक द्वारा किए जा रहे बकरीपालन के कार्य का भी निरीक्षण किया। इस अवसर पर एसडीएम कृष्ण गोपाल जोजन आदि मौजूद थे।